रविवार, अप्रैल 19, 2009

भारत के 50 सर्वाधिक प्रभावशाली व्यक्तियों में शामिल है एक विशुद्ध चिट्ठाकार!

an indian blogger is among indias most powerful people

और, ये प्रभावशाली चिट्ठाकार बॉलीवुड के अभिनेता अमित (बच्चन) नहीं हैं. ये हैं अमित वर्मा. अमित वर्मा भारत के चंद सर्वाधिक लोकप्रिय और प्रसिद्ध चिट्ठाकारों में से एक हैं. बिजनेस वीक द्वारा हाल ही में जारी भारत के सर्वाधिक 50 प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची में अमित वर्मा को एक चिट्ठाकार के रूप में शामिल किया है. इससे यह बात सिद्ध होती है कि चिट्ठाकारी अपने आप में कितना बड़ा और सशक्त माध्यम है.

indias most powerful 50 people

 

अमित वर्मा को हिन्दी चिट्ठाजगत् की बधाईयाँ.

 

अमित अंग्रेजी में इंडिया अनकट नाम से ब्लॉग लिखते हैं. इंडिया अनकट को 2004 का सबसे अच्छा नया ब्लॉग और 2005 का सबसे बढ़िया ब्लॉग के रूप में इंडीब्लॉगीज द्वारा पुरस्कृत भी किया जा चुका है.

India uncut - indibloggies winner

Best new indiblog 2004

 

अमित वर्मा इस सम्मान के नवाजे जाने पर अपने ब्लॉग में लिखते हैं

मुझे सुखद आश्चर्य हुआ और साथ ही प्रसन्नता हुई यह जानकर कि इस सूची में मैं भी हूं. मुझे नहीं लगता कि मैं इस सूची में शामिल होने लायक हूं भी, मगर फिर प्रतीत ये होता है कि बिजनेस वीक ने इस बात को समझा है कि ब्लॉग में लिखे शब्द भी अब जनता की विचारधारा को बदल सकने की ताकत रखते हैं...

भारत के अन्य प्रसिद्ध चिट्ठाकारों की एक सम्यक सूची आप यहाँ देख सकते हैं.

उम्मीद करें कि निकट भविष्य में हिन्दी चिट्ठाकार भी ऐसी सूचियों में स्थान बनाने में जल्द ही सफल होंगे :)

Post Comment

Post Comment

25 टिप्‍पणियां:

  1. इंडिया अनकट के तो हम भी पाठक हैं ! अमित वर्मा को बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  2. हाँ, ज़नाब को यदा कदा पढ़ता रहा हूँ, आड़े आता है समयाभाव और बनते जाते नये नये दोस्त !
    " इसी कड़ी में दद्दा परीशान हैं कि " ई-पण्डित (श्रीश बेंजवाल शर्मा) के ब्लॉग पर अंतिम पोस्ट 21 अक्तूबर 2007 की है। अर्थात लगभग आधा वर्ष हो गया उनको ब्लॉग-निष्क्रिय हुये। श्रीश वे प्रारम्भिक सज्जन हैं जो मुझे हिन्दी ब्लॉगरी की ओर लाये। वे मेरे ब्लॉग पर काफी नियमित टिप्पणी करते रहे हैं। मैने यह भी पाया है कि वे हिन्दी ब्लॉगिंग का ककहरा सीख रहे लोगों के ब्लॉग पर जा कर टिप्पणी अवश्य करते थे।

    कहां हैं ई-पण्डित आजकल?

    " जबकि उनका हरियाणायवतार अन्यन्त्र अवतरित हो चुका है, मय ढोल ताशे के... " » हरियाणे की इस माट्टी नै ई पाल पोस कै बड़ा करया, इसका अहसान चुकाण की एक कोशिश ई सही। होर कुछ नी तो कै बेरा कुछ होर लोग बी कदै मेरी देक्खा देक्खी हरियाणवी म्ह लिखणा शुरु कर दें। कम तै कम आपणी भाषा का प्रचार तो होवेगा।

    » कोण सै डाक्टर नै कह रक्ख्या अक रोज लिखिए, आपणै निठल्ले भाईसाब जिस तरियां उत्तरांचल पै मीने म्ह दो तीन पोस्टां लिक्खै करां ओ ई तरीका आप्पां भी फिट करांगे।

    » एक ब्लॉग लिखणां ई तो इसा काम सै जिस खातर दमाग की जरुरत कोनी, बस कुछ भी छाप द्‍यो। नारद माराज की किरपा तै लोग आ ई ज्यांगै। होर कुछ नी तो ठाकै हरियाणवी मखौल ई चेप दिया करांगे।

    » के बेरा भाई आज तै ५-१० साल पीच्छा कुछेक हरियाणवी ब्लॉग हो ग्ये तो लोग मन्नै हरियाणवी का आदि चिट्ठाकार तो कहै करांगे।

    उम्मीद सै भाईयों आदें रहोगे याड़ै मेरी बकबक सुणण खातर।




    नोट: तीन बजने में अभी आठ मिनट शेष हैं !

    उत्तर देंहटाएं
  3. .बिजनेस वीक द्वारा सर्वाधिक 50 प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची में अमित वर्मा को एक चिट्ठाकार के रूप में शामिल करने पर,
    अमित वर्मा को बधाई।

    उत्तर देंहटाएं
  4. ये भारत के ब्लॉग की सूची है ? मुझे तो अमेरिका की लग रही है !

    उत्तर देंहटाएं
  5. ब्लाग भी एक प्रभावशाली माध्यम है, यह अमित ने साबित किया है।

    उत्तर देंहटाएं
  6. अच्छी जानकारी उपलब्ध कराई।आभार।

    उत्तर देंहटाएं
  7. अमित वर्मा के बारे में बहुत समय से सुन रहा हूँ। उनका ब्लाग पढ़ने की भी कोशिश की। लेकिन कुछ ज्यादा ही सटीक लिखते हैं वे, अत: मैं उन्हें पढ़ नहीं पाता। फिर भी, चिट्ठाकार होने के नाते मैं उन्हें अपना भाई मानता हूँ, सो उन्हें बधाई!

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत उत्साहजनक है यह खबर तो !

    उत्तर देंहटाएं
  9. अच्छी जानकारी के लिए रवि जी को धन्यवाद। अमित जी को सभी ने बधाई दे ही दी है। हम फुरसतियाजी को बधाई देते है कि वे इस रेस में चौथे नम्बर हैं और आशा करते है कि वे लम्बे रेस के घोडे बन कर पहली पायदान पर आ जाएंगे। ब्लागिंग की मस्ती में मस्त रहें और मस्ती में दौडते रहें-शुभकामनाएँ :)

    उत्तर देंहटाएं
  10. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  11. इस दौड़ में शामिल सभी हिन्‍दी चिट्ठाकारों को बधाई। भारत का नाम रोशन करने वाले अमित वर्मा जी तो बधाई के एक महापात्र हैं इसमें जितनी बधाईयां डाली जाएं, कम ही होंगी और पात्र बधाईयां स्‍वीकार करने से और बढ़ता जाए, इसी मनोकामना के साथ।

    उत्तर देंहटाएं
  12. अगली बार कोई हिंदी चिटठाकार इस मुकाम पर पहुंचे

    यही उम्‍मीद

    अमितजी को शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  13. acchi jankari dene ke liye shukriya !!

    hindi chittakaron ke recognise hone ka intzaar....

    उत्तर देंहटाएं
  14. "भारत के अन्य प्रसिद्ध चिट्ठाकारों की एक सम्यक सूची आप यहाँ देख सकते हैं."


    प्रसिद्ध कैसे बने ?? यहाँ जाए

    उत्तर देंहटाएं
  15. अनूठी जानकारी थी ये तो रवि जी

    उत्तर देंहटाएं
  16. इसी के साथ उम्‍मीद करना चाहिए कि एक दिन इस लिस्‍ट में एक दिन हिन्‍दी ब्‍लॉगर भी शामिल होंगे।

    -----------
    खुशियों का विज्ञान-3
    एक साइंटिस्‍ट का दुखद अंत

    उत्तर देंहटाएं

चिट्ठा चर्चा हिन्दी चिट्ठामंडल का अपना मंच है। कृपया अपनी प्रतिक्रिया देते समय इसका मान रखें। असभ्य भाषा व व्यक्तिगत आक्षेप करने वाली टिप्पणियाँ हटा दी जायेंगी।

नोट- चर्चा में अक्सर स्पैम टिप्पणियों की अधिकता से मोडरेशन लगाया जा सकता है और टिपण्णी प्रकशित होने में विलम्ब भी हो सकता है।

Google Analytics Alternative