मंगलवार, अप्रैल 03, 2007

जूते की सुनो वो तुम्हारी सुनेगा

आज गीत सम्राट राकेश भाई की पारी थी, मगर उनके कंप्यूटर की हार्ड डिस्क बोल गई और वो हमें कविता में चर्चा लगे सुनाने फोन पर कि आप लिखते जाईये. हम कहे, सुन लिये हैं..और जैसा समझ में और याद आयेगा, कर देंगे, आप निश्चिंत रहें. हम दोस्ती बहुत अच्छी निभाते हैं. फुरसतिया जी हमसे कुछ नहीं कहे कि आप चर्चा करें जबकि उन्हें भी मालूम था कि राकेश भाई के साथ समस्या है. शायद हमारी जूता पुराण से डर गये..तो लें राकेश भाई की चर्चा के बदले कविता में ही चर्चा:


अप्रेल फूल का खेल, अब खत्म हो ही है चला
केतु बन के शक कहीं, आज तक भी है पला
इस देश में रहना है तो बेटा पैदा करना होगा
हर मुसलमां आतंकवादी, यह कौन सी है बला.

प्रत्यक्षा की रसोई और कालिखजीवी की कुरुपता
सोमवार आज काला होगा, ये पहले से उन्हें पता
राजनीतिक संन्यासी पर व्यंग्य में वो कहते रहे
सिक्कों में संप्रदायिकता, किसकी मानें यह खता.

यमराज का इस्तीफा या नारद का हो इतिहास
विद्रोही जी की एक कविता, बनी हुई है खास
मुंबई ब्लॉग ने जारी की है ब्लॉगबस्टर की रेंक
माँ के आँचल का पसरा, वही अजब अहसास.

चरसी युवा न जाने क्यूँ, अपना धीरज खोते जाते
अमित देख खजुराहो-ओरछा, फोटो सबको दिखलाते
तुझे तोड़ देगा यही मौन तेरा, पीर भी गाती नहीं,
कौन सा मौसम लगा है? दर्द सगे से होते जाते

कोई झामपटाखा खबर नहीं है, होमोनिम्स का पता नहीं है
अजदक की सोच अलग, औ' मुलायम मेरा ताकिया नहीं है
हिन्दी में नहीं रहा और फिर गंगा के बचने की बात कैसी
क्या आपको मालूम चला कि कत्ल करना गुनाह नहीं है.

बदली दुनिया दस मिनट में, गुगल एप्स एक अच्छा सौदा,
आप कितने किलो की हैं, यही तो है आज का बना मसौदा
जानो राजनीति में मूल्य और जनसंचार माध्यमों की दंतकथा
मुलायम मेरी पाठशाला, या कि अजदक के ठीकठाक का हौदा.

आज की चर्चा पर, अब लगा लेते है एक छोटा सा विराम,
डेनियल और मैक कंप्यूटर के संग, तब तक करें आराम.

Post Comment

Post Comment

3 टिप्‍पणियां:

  1. कृपया इस प्रविष्टी की कड़ी को सुधार लें - जनसंचार माध्यमों की दंतकथा ।सही कड़ी यह है

    उत्तर देंहटाएं
  2. वाह वाह क्या खूब लिखी है चर्चा सारे चिट्ठों की
    शायद मेरा कम्प्यूटर भी न कुछ ऐसे लिख पाता
    गीतकार से कहा, लिखेगा वो पूरा पूरा विवरण
    क्रैश हुआ कैसे कम्प्यूटर, कौन रहा कविता गाता

    उत्तर देंहटाएं
  3. बढ़िया है। इत्ती जल्दी लिख लिये! कमाल है!

    उत्तर देंहटाएं

चिट्ठा चर्चा हिन्दी चिट्ठामंडल का अपना मंच है। कृपया अपनी प्रतिक्रिया देते समय इसका मान रखें। असभ्य भाषा व व्यक्तिगत आक्षेप करने वाली टिप्पणियाँ हटा दी जायेंगी।

नोट- चर्चा में अक्सर स्पैम टिप्पणियों की अधिकता से मोडरेशन लगाया जा सकता है और टिपण्णी प्रकशित होने में विलम्ब भी हो सकता है।

Google Analytics Alternative