रविवार, अप्रैल 25, 2010

ब्लॉग में समाचार या समाचार में ब्लॉग?

वैसे तो कई हैं, पर उदाहरणार्थ कुछ प्रस्तुत हैं -

 

image

 

image

 

image

 

image

 

ऐसा नहीं लगता कि आपके शहर / मुहल्ले का भी ऐसा कोई समाचार स्थल होना चाहिए? आपके विचार में, ब्लॉग के चंद बेहतर प्रयोगों के बेहतरीन नमूनों में से एक, नहीं लगते हैं ये?

(साइट पर जाने के लिए चित्र पर क्लिक करें.)

Post Comment

Post Comment

8 टिप्‍पणियां:

  1. रवि जी श्रद्धा जी के ब्लॉग पर ... आपने जो ब्लॉग पर कंटेंट चुराने वालो के लिए कमेन्ट दिया है कृपया उसे भी इस मंच पर दे ताकि बहुत से लोगो को उस नियम की जानकारी हो सके ....

    उत्तर देंहटाएं
  2. चिट्ठाचर्चा में ब्लॉगाचार ! बढ़िया है ।

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत ही मेहनत और अच्छी सोच से उपजी विवेचना के लिए धन्यवाद / ब्लॉग एक समानांतर मिडिया के रूप में उभर कर देश और समाज में बदलाव लाने का सशक्त माध्यम बन सकता है / बस जरूरत है एकजुटता और सच्ची लगन के साथ ब्लोगरों की भागीदारी की / इस बारे में आपका क्या ख्याल है लिखियेगा / हमारे द्वारा एक विचार और सुझाव का अभियान चलाया जा रहा है / जिसमे उम्दा विचारों को सम्मानित करने का भी हमने व्यवस्था कर रखा है / आशा है देश हित के इस अभियान में आप अपना विचार जरूर रखेंगे / आप इस http://honestyprojectrealdemocracy.blogspot.com/2010/04/blog-post_16.htmlपोस्ट के पते को कॉपी कर सर्च बॉक्स में पेस्ट कर उस पोस्ट पर पहुच सकते है जिसके टिपण्णी बॉक्स में आपको अपने विचार लिखने हैं /

    उत्तर देंहटाएं
  4. ब्‍लॉग में भी समाचार और समाचार में भी ब्‍लॉग !!

    उत्तर देंहटाएं
  5. मेरे ब्लॉग को शामिल करने के लिए धन्यवाद रविजी।
    दरअसल, कुछ महीनों पहले एक मित्र तेहरान में कमाने खाने गए थे।
    उन्हीं ने बताया था कि विदेशों में रहने वाले लोग अपने क्षेत्र की खबरों
    के लिए तरसते हैं। इसीलिए मैंने छत्तीसगढ़ खबर और दुर्ग-भिलाई न्यूज
    के नाम से दो ब्लॉग बनाए।

    उत्तर देंहटाएं
  6. चर्चा की अभिनव युक्तियाँ !
    सुन्दर ! आभार ।

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत से लोगों के घटिया विचारों को पढ़ने से अच्छा है कि समाचार ही पढ़ लो.. कुछ तो खुराक मिलेगी। अन्यथा आपको भी पता है कि भाई लोग क्या कूड़ा-करकट कर रहे हैं। ज्यादा नहीं लिखूंगा लोग फिर नाइस लिखने से भी डरने लगते हैं।

    उत्तर देंहटाएं

चिट्ठा चर्चा हिन्दी चिट्ठामंडल का अपना मंच है। कृपया अपनी प्रतिक्रिया देते समय इसका मान रखें। असभ्य भाषा व व्यक्तिगत आक्षेप करने वाली टिप्पणियाँ हटा दी जायेंगी।

नोट- चर्चा में अक्सर स्पैम टिप्पणियों की अधिकता से मोडरेशन लगाया जा सकता है और टिपण्णी प्रकशित होने में विलम्ब भी हो सकता है।

Google Analytics Alternative